Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2022

सफलता की राह आसान नहीं होती है। Success Story

पिता को कैंसर हो गया था, फिर भी नहीं हारी हिम्मत और सिर्फ 22 साल की उम्र में IAS बनकर अपने सपने को किया साकार इस लड़की ने। वैसे किसी के सफलता का पथ आसान नहीं होता लेकिन हौसलों की उड़ान रखने वालो के लिए कोई राह मुश्किल भी नहीं होती।  पंजाब के मोगा की रहने वाली रितिका जिंदल (Ritika Jindal) ने तमाम बाधाओं को पार किया और 22 साल की उम्र में UPSC Exam पास कर आईएएस बनने का अपना सपना पूरा किया। जैसा की आप सभी जानते ही है कि संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) परीक्षा को भारत की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है और हर साल लाखों छात्र इसमें शामिल होते हैं, लेकिन बहुत कम स्टूडेंट्स ही इसे क्लियर कर पाते हैं।  UPSC Exam की तैयारी के लिए पढ़ाई लिखाई के साथ साथ व्यक्ति का फिजिकल और मेंटल हेल्थ भी काफी अच्छा होना जरूरी है। हालांकि पंजाब के मोगा के रहने वाली रितिका जिंदल (Ritika Jindal) के लिए ये आसान नहीं था। लेकिन इसके बावजूद उन्होंने सारी मुश्किलों का सामना करते हुए आईएएस बनने का सपना पूरा किया। तो फिर आइए बताते है रितिका के सफलता की कहानी का सफर।  बचपन से ही आईएएस बनना चाहती थीं रितिका बचपन से ह

ऐसी सोच रखते हो तो success निश्चित मिलेगी | Motivational Story | Success Story | Lion Deer story

दोस्तों क्या आप जानते हो की एक हिरण की रफ्तार किमी प्रति घंटा की होती है अर्थात एक घंटा में दौड़ सकता है जबकि वही एक शेर की रफ्तार किमी प्रति घंटा की होती है । इसका मतलब है कि हिरण शेर की अपेक्षा अधिक तेजी से दौड़ सकता है। लेकिन ऐसा क्यों होता है की शेर हिरण का शिकार करने में सफल हो जाता है। आखिर क्या कारण है कि अधिक रफ्तार रखने वाला हिरण शेर का शिकार हो जाता है और कम रफ्तार रखने वाला शेर अपने शिकार करने में सफल हो जाता है ।  दोस्तों अगर हम इसे समझ लेते है यकीन मानिए आप अपनी असफल होने के कारणों को समझ जायेंगे और भविष्य में शेर की तरह आप भी जल्दी ही सफलता हासिल कर लेंगे। तो फिर चलिए समझने की कोशिश करते है की शेर की सफलता का क्या राज है और हिरण के असफलता का क्या कारण है । पहले बात करते है हिरण की। हिरण की रफ्तार भले ही तेज हो लेकिन उसे भय बना रहता है कि कही शेर मुझे पकड़ कर मार न दे । हिरण के अंदर हमेशा शेर की बहादुरी से डर बना रहता है की क्या मैं उसकी दौड़ और बहादुरी के सामने जीत पाऊंगा। इसी डर के कारण जब हिरण दौड़ लगाता है तो वह बार बार पीछे मुड़कर देखता रहता है कि मैं शेर स

Contact Form

Name

Email *

Message *