Skip to main content

Posts

Showing posts from November, 2021

सकारात्मक नजरिए के फ़ायदे | Benefits of Positive Attitude.

दोस्तों जैसा कि हम आपके लिए खुशहाल और सफल जिंदगी (happy and success life) जीने के लिए अलग अलग तरह के article लेकर आता रहता हूं। इसी कड़ी में आज का ये article काफी बेहतर साबित होगा जो कि सकारात्मक नजरिए  के फ़ायदे के बारे मे है । Benefits of Positive Attitude. You can visit and subscribe my YouTube Channel -     Jeena Sikho Motivation "यदि कोई मनुष्य कुछ सीखना चाहे, तो वह अपनी प्रत्येक भूल से कुछ न कुछ सीख लेता है।"  लेकिन इसके लिए उसका नजरिया सकारात्मक (Positive attitude) होना चाहिए। आपके सकारात्मक नजरिए  (Positive attitude)  के कई फायदे होते हैं। इन्हें आसानी से देखा जा सकता है। लेकिन ध्यान रहे कि आसानी से दिखाई देनी वाली चीज़ को उतनी ही आसानी से अनदेखी भी कर दिया जाता है। तो फिर देखते है कि आखिर क्या फायदे हो सकते है - इसे भी जरूर पढ़िए -  सकारात्मक रहें -स्वस्थ रहें | Be Positive- stay Healthy  • आपका दिल और मन खुशनुमा (happy) रहता है  • आपके अंदर जोश पैदा होता है  • जिंदगी का आनंद (enjoy) बढ़ जाता है  • आपके अगल-बगल के लोगों को एक प्रेरणा (motivation) मिलती है  • आप

जीवन का प्रशिक्षण क्यों जरुरी है ?| Why Training if Important in Life? | Success Motivation

बाज पक्षी के बचपन की शुरूआत बहुत ही मुश्किल से होती है। बाज पक्षी को बचपन में ही ऐसी ट्रेनिंग (training) दी जाती है, जिससे वह अपने जीवन में बड़ी-बड़ी मुश्किलों से भी आसानी से सामना कर पाते हैं। You can visit and subscribe my YouTube Channel -     Jeena Sikho Motivation यदि किसी परिंदे का बच्चा जन्म लेता है तो उसे कम से कम एक महीने तक अपने माँ बाप के ऊपर निर्भर रहता है।  उस बच्चे के खाने पिने से लेकर जब तक चलना नहीं सीख जाता, तब तक वह अपने माता पिता की नजर में रहता है। लेकिन बाज पक्षियों में ऐसा नहीं होता है।  बाज पक्षी सबसे उल्टा चलते हैं। जब एक बाज मादा अपने बच्चे को जन्म देती है तो उस समय से ही उसके बच्चे की ट्रेनिंग (training) शुरू हो जाती है कि उसे अपने जीवन में कैसे संघर्ष (struggle) करना है। पैदा होने के कुछ ही दिन बाद बाज के बच्चे का प्रशिक्षण (training) शुरू हो जाता है। उसके प्रशिक्षण (training) के पहले पड़ाव में मादा बाज अपने बच्चे को चलना सिखाती है। जब बच्चा भूखा होता है तो उसकी मां खाना लाती है। जैसा कि सभी पक्षी करते हैं। लेकिन बाज सीधा अपने बच्चे को खाना नहीं देते। मादा बा

डर को काबू करने के लिए अपनाये ये 7 तरीके | How To Overcome Fear | Success Tips

जीवन में सफलता (Success)  की ओर आगे बढ़ते जाना एक प्रगतिशील व्यक्ति (Progressive person) की  पहचान होती है। लेकिन प्रत्येक व्यक्ति के सफलता  (Success )  के रास्ते में एक ऐसा दानव जरूर आता है जो उसकी  इस प्रगति को रोकने की पूरी कोशिश करता है, उस दानव का नाम है- डर (FEAR)। जी हां दोस्तों ये डर रूपी राक्षस आपके जीवन में भी आया होगा। या हो सकता है अभी भी आपके अंदर बसेरा डाल रखा हो जिसके कारण आप सफल  (Success )  नहीं हो पा रहे है।  ये डर एक 100% काल्पनिक चीज है जिसका वास्तविक जीवन से किसी प्रकार का कोई भी लेनादेना नहीं होता है।  यह ऐसा दानव है जिसे यदि सही समय पर न रोका गया या अंदर से नही निकाला गया तो यह Success  होने की प्रत्येक संभावना को पूरी तरह रोक देता है। You can visit and subscribe my YouTube Channel -     Jeena Sikho Motivation इसे भी अवश्य पढ़ें -  सफलता की कुंजी।  Key of success. डर क्या है? (What is Fear) उससे पहले जानते है ये डर (fear) होता क्या है । दोस्तों डर एक ऐसा झूठ है जो हमें सच जैसा लगता है। असल में डर (fear) का कोई वजूद होता ही नहीं है, वह केवल हमारे दिमाग द्वारा बना

सफलता के लिए हमारा नजरिया क्यों होता है जरुरी ? | Why attitude is most important thing in success?

सफलता के लिए हमारा नजरिया क्यों होता है जरुरी ? | Why attitude is most important thing in success? एक आदमी मेले में गुब्बारे बेच कर गुजर-बसर करता था। उसके पास लाल, नीले, पीले, हरे और इसके अलावा कई रंगों के गुब्बारे थे। जब उसकी बिक्री कम होने लगती तो वह हीलियम गैस से भरा एक गुब्बारा हवा में उड़ा देता। बच्चे जब उस उड़ते गुब्बारे को देखते, तो वैसा ही गुब्बारा पाने के लिए लालाइत हो जाते । वे उसके पास गुब्बारे खरीदने के लिए पहुँच जाते, और उस आदमी की बिक्री फिर एस बढ़ने लगती। उस आदमी की बिक्री जब भी घटती, वह उसे बढ़ाने के लिए गुब्बारे उड़ाने का यही तरीका अपनाता था।   You can visit and subscribe my YouTube Channel -     Jeena Sikho Motivation एक दिन गुब्बारे वाले को महसूस हुआ कि कोई उसके जैकेट को खींच रहा है। उसने पलट कर देखा तो वहाँ एक बच्चा खड़ा था। बच्चे ने उससे पूछा, “अगर आप हवा में किसी काले गुब्बारे को छोड़ें, तो क्या वह भी उड़ेगा?” बच्चे के इस सवाल ने गुब्बारे वाले के मन को छू लिया। बच्चे की ओर मुड़ कर उसने जवाब दिया, “बेटे, गुब्बारा अपने रंग की वजह से नहीं, बल्कि उसके अंदर भरी चीज़ की

कैसे गांव का 22 साल का लड़का चाय बेच कर बना करोड़पति ! Motivation for Youth | Success Story.

कैसे एक छोटे से गांव से निकल कर 22 साल का लड़का चाय बेच कर बना करोड़पति! सुनने में कितना आश्चर्य लगता है लेकिन उसके पीछे कितना कठिन मेहनत और ऊंची सोच लगी होती है, तब कही जाकर ये पड़ाव किसी को नसीब होता है।  You can visit and subscribe my YouTube Channel -     Jeena Sikho Motivation "सफलता तक पहुंचने के लिए,  असफलता के Road से गुजरनी पड़ेगी" "तब तक अपने काम पर काम करें,  जब तक की आप सफल नहीं हो जाते" कुछ इसी अंदाज में प्रफुल्ल सफलता (Success) हासिल करके दिखाया है । आज इस वीडियो में मैं उसी प्रफुल्ल (Prafull) के सफलता (Success) की कहानी को बताने जा रहा हूं ।  इसे भी जरूर पढ़ें-  आपकी असफलता में ही छुपे है सफलता के राज।   जब MBA में प्रवेश नहीं मिला तो प्रफुल्ल (Prafull)ने उसी कैम्पस के बाहर चाय की दुकान खोल ली । ऐसा करना शुरू में तो बहुत अजीब सा लगता है। लेकिन हिम्मत, सोच और कठिन मेहनत की वजह से आज कराेड़ों में कमाई कर रहे हैं। "अगर आप खुद में मजबूत हैं तो असफलता आपका कुछ नहीं बिगाड़ सकती ।" मध्य प्रदेश के एक गांव के एक किसान का बेटा प्रफुल्ल बिलोर (Praful

नौकरी नही मिली तो ? What to do if job is not getting? | Motivation for Youth.

कहते है कि अगर लड़का नौकरी (job) वाला नहीं है तो फिर जमाना उसे फुटबाल की तरह किक पे किक मारता रहता है। लेकिन इसी बात को आजकल कुछ इस तरह से कहा जाता है की अगर लड़का success नही तो जमाना उसे किक मारता है।  You can visit and subscribe my YouTube Channel -     Jeena Sikho Motivation दोनो बातें सुनने में तो लगती एक जैसी है लेकिन दोनो में बहुत अंतर है। अक्सर लोग नौकरी (job) मिलने को ही success मानते है लेकिन आज का जमाना यह नही कहता । आज का जमाना आपको सिर्फ नौकरी (job) का मिलना ही नही बल्कि आपको किसी भी फील्ड में success होना मानती है।  "ज़िंदगी खेलती भी उसी के साथ है, जो खिलाड़ी बेहतरीन होता है." "दर्द तो यहां सबके एक से हैं, मगर हौंसले सबके अलग अलग हैं." "जीवन में कोई हताश होकर बिखर जाता है, तो कोई संघर्ष करके निखर जाता है। सक्सेस हो जाता है।" इसे भी जरूर पढ़ें -  मै क्यों नहीं कर सकता / Why I can't do ? आजकल के युवा पीढ़ी के दिमाग में अक्सर ये बात आती है कि अगर नौकरी (job) नही मिली तो क्या होगा ? इस प्रश्न के चक्कर में असफल होने से कई लोग आत्महत्या तक कर ले

Contact Form

Name

Email *

Message *